शिवलिंग के दर्शन करने का सही तरीका, पूरी होगी हर मनोकामना: शारीर में बढेगा सात्विक गुण और तेज| ShrungDarshan Method Of Lord Shiva Shivling

0
28120

Shrungdarshan of Shivling: श्रुन्गदर्शन का सही तरीका

big-nandi-shiva

इस तरीके को हम श्रुन्गदर्शन (shrungdarshan) कहते हैं| इस प्रकार दर्शन करने से शारीर में सात्विक गुण बढ़ता है और तामसिक गुण कम होता है| भगवान् शिव की उर्जा आपके शारीर में आती है और आप अपने हर काम में सफल होने लगेंगे| श्रुन्गदर्शन करने का तरीका|

  1. हर शिव मंदिर में शिवलिंग के ठीक सामने नंदी महाराज बैठे होते हैं, यह मान लीजिए की नंदी महाराज शिव जी के सेक्रेटरी जैसे ही हैं|
  2. सबसे पहले नंदी महाराज के दाहिने (right side) खड़े हो जाएं|

 

shivling-darshan-correct-way

3. अपने बाएँ हाँथ (left hand) को नंदी के वृषण पर रखना है (वृषण यानि नंदी की पूंछ के ऊपर बायाँ हाँथ रखना है)|

4. अब अपने दाएं हाँथ (right hand) की दो उँगलियों (अंगूठा और तर्जनी) (Thumb and Index finger) से नंदी महाराज की दोनों सींघो पर रखना है| ऐसा करने से एक फ्रेम बन जाएगा|

shiva-shivling-Shrungdarshan

 

5. अब इसी फ्रेम से आपको शिवलिंग के दर्शन करना है| यही है shrungdarshan का तरीका|

 

mahakaleshwar_temple_ujjain_jyotirling

अगले पेज में जाने क्या होता है इस प्रकार दर्शन करने से|

 अगले पेज में जाने के लिए नेक्स्ट बटन पर क्लिक करें.

Benefits Of Shrungdarshan Of Shivling : श्रुन्गदर्शन का महत्व

lord-shiva-shivling-shrungdarshan-methodनंदी महाराज की सींघो से जो तरंगे निकलती हैं, वो भक्तों के शारीर में विद्य्वान रजस और तामस गुण को कम करती हैं और सात्विक गुण बढ़ाती हैं|

ऐसा माना जाता है की ओमकार और शिव की शक्ति शिवलिंग में विद्यमान होती है| इसके अलावा शिव पिंडी के चारों और शक्ति की तरंगे होती हैं, मंदिर जाने से हमें इन्ही तरंगो से शक्ति मिलती है| इन शक्ति तरंगो को चैतन्य कहा जाता है|

चैतन्य का बहाव शिवलिंग से नंदी महाराज की ओर होता है| इसलिए कभी-भी नदी महाराज और शिवलिंग के बीच में खड़े न हों|

जब आप श्रुन्गदर्शन करते हैं तो ये चतैन्य तरंगें शिवलिंग से आपके शारीर में टकराती हैं और चारों ओर फ़ैल जाती हैं, इस प्रकार शिवलिंग की शक्ति आपके शारीर में आ जाती है|

पूजा करने से उस भगवान की विशेषताएं आपमें आ जाती हैं| अगर आप शिव जी की पूजा करते हैं तो उनकी विशेषता आपमें आती जाएंगी| और आपके हर काम सफल होते जाएँगे| लेकिन यह तब मुमकिन है जब आप सही तरीके से पूजा और शिवलिंग दर्शन करेंगे|

वेदों में बताया गया है भगवान शिव तक अपनी हर मनोकामना पहुचाने का यह आसान तरीका, जानने के लिए क्लिक करें|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here