इत्र से जुड़े ये 5 उपाय आपका जीवन बदल सकते है | best dhan prapti upay

0
761

कैसे इत्र बदल सकता है आपका जीवन | dhan prapti upay

itra ke upay

ज्योतिष शास्त्र और लाल किताबों के विशेषज्ञों द्वारा माने गए और पूरी तरह से कुछ सात्विक उपाय हैं जिन्हें हम आज यहाँ आपको बता रहे हैं| ये उपाय या कहें टोटके पूरी तरह से सही होते हैं, जिनसे किसी का कभी कोई नुक्सान नहीं होता| इन टोटकों के लिए ऐसे अक्सर ऐसी चीजें प्रयोग में लायी जाती हैं जो या तो हमारे घरो में ही होती है या हमारे आसपास हमें आसानी से मिल जाती है| इन्ही में से एक है-इत्र| इत्र एक ऐसा खुशबूदार पदार्थ है जिसका उपयोग पुराने ज़माने से होता आया है| इसके उपयोग के यूँ तो कई सामाजिक, धार्मिक और मनोवैज्ञानिक महत्त्व हैं लेकिन आज हम इत्र के कुछ ऐसे ज्योतिषीय उपाय और टोटके बताने जा रहे हैं जो पूरी तरह से अचूक हैं |

अपनाएँ ये घरेलु और आसान उपाय व टोटके समृद्धि और खुशहाली के लिए | 5 best dhan prapti upay

1, पहला टोटका- पति पत्नी के बीच प्रेम को बढ़ाने के लिए | 

यदि पत्नी चाहती है की उसके और उसके पति में हमेशा प्रेम बना रहे तो इसके लिए वह बुधवार के दिन तीन घंटे का मौन व्रत रखे | इसके बाद शुक्रवार के दिन मिश्री डालकर साबूदाने की खीर बनाये और अपने पति के साथ-साथ पूरे परिवार के सभी सदस्यों को प्यार से खिलाये |और इसी दिन अपने घर के पास किसी भी मंदिर में जाकर इत्र की शीशी दान करे और अपने कमरे में भी इत्र की शीशी रखें | इस उपाय को करने से दोनों के बीच के प्यार में बढ़ोतरी होगी और उनके बीच का रिश्ता और मजबूत होगा |

कोल्हू का बैल बनकर कर्ज चुकाया – एक सच्ची घटना |

2, दूसरा टोटका- पति की लम्बी उम्र के लिए|

यदि कोई औरत लाल सिंदूर, चने की दाल, केसर की एक डिब्बी और इत्र किसी मंदिर में जाकर या किसी ज़रूरतमंद महिला को दान करे तो इससे उसके पति की उम्र भी बढती है और उनके सर पर से मुसीबत भी टलती है|

3, तीसरा टोटका- लक्ष्मी जी की कृपा के लिए|

किसी भी दिन अगर घर में लक्ष्मी जी का पूजन करें, खासकर दिवाली के दिन तो पूजन के समय तेज़ सुगंध और इत्र का इस्तेमाल करें| ऐसा माना जाता है कि दिवाली के दिन या किसी भी अन्य दिन जब लक्ष्मी जी का पूजन हो तो अच्छे, सुगन्धित और तेज़ इत्र के इस्तेमाल से लक्ष्मी जी की कृपा तुरंत प्राप्त होती है और घर में कभी भी धन से सम्बंधित समस्याएँ पैदा नहीं होती|

क्यों मृत्यु के बाद की जाती है कपाल क्रिया एवं जानिए अंतिम संस्कार से जुड़े यह रहस्य

4, चौथा टोटका- हनुमान जी की कृपा पाने के लिए|

मंगलवार के दिन हनुमानजी को जब भी चोला चढ़ाएँ तो चमेली के तेल का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही चोला चढ़ाते समय हनुमान जी के सामने एक दिया जला कर रख दें। और ध्यान रहे कि दिए में भी चमेली के तेल का ही इस्तेमाल करें।

इस के बाद सबसे पहले केवड़े का इत्र थोड़ा-थोड़ा बजरंगबली जी की मूर्ति के दोनों कंधों पर छिटक दें और इसके पश्चात् उन्हें गुलाब के फूल की माला पहनाएं। अब एक साबूत पान का पत्ता लेकर इसके ऊपर थोड़ा गुड़ और चना रख कर रामभक्त हनुमान जी को भोग लगाएं। ये सब करने के बाद वहीं आसन बिछाकर बैठ जाएँ और तुलसी की माला से नीचे लिखे मंत्र का जप करें। इतना ध्यान रहे की कम से कम 5 माला जाप अवश्य करें।

मंत्र-

राम रामेति रामेति रमे रामे मनोरमे।

सहस्त्र नाम तत्तुन्यं राम नाम वरानने।।

मंत्र जप करने के बाद हनुमान जी को चढाए गए गुलाब के फूल की माला से एक फूल तोड़ कर उसे एक लाल कपड़े में लपेटकर अपने घर के धन स्थान यानी तिजोरी में रख लें। आपकी तिजोरी में बरकत बनी रहेगी।

5, पाँचवा टोटका- शुक्र ग्रह की शुभता के लिए|

अपनी कुंडली में शुक्र को जागृत करने के लिए अपने आचरण की शुद्धि बेहद ज़रुरत है। इस राशि के जातक को परफ्यूम या इत्र का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा जब भी वक़्त मिले शुक्ल पक्ष के शुक्रवार को लक्ष्मी माँ को इत्र और श्रृंगार की वस्तुएं भेट करें। ये उपाय करने से आपके शुक्र ग्रह में शुभता आएगी और जहाँ एक ओर पति-पत्नी के बीच प्रेम बढ़ेगा तो वहीं दूसरी ओर घर में धन और समृद्धि भी बरकरार रहेगी|

दोस्तों हम उम्मीद करते हैं की आप इन उपायों/टोटकों को अपने जीवन में अमल में लायेंगे और अपने जीवन को खुशहाल और समृद्धशाली बनायेंगे| इसके अलावा के कुछ सवाल या कोई शंका हो तो वो भी कमेंट करके पूछ सकते हैं|

इसे भी पढ़ें – 
हथेली की लकीरों से बना यह अक्षर संकेत है की आप ख़ास इंसान हो| 
कृष्ण ने बताईं ऐसी 5 वस्तुएं; जिनका घर में होना व्यक्ति को बनाता है धनवान | 

 

Facebook Comments