क्या आप को पता है हथेली के तिल भी बता सकते है आप का भाग्य |

0
25614

तिलों का महत्व हस्त पर्वतों पर 

हमारे पुराणों में भी तिलों के महत्व का उल्लेख किया गया है | शारीर में तिलों का बहु महत्व है | तिलों पर शोध प्राचीन काल से ही चला आ रहा है | जनसाधारण की भाषा में एक बात बहुत प्रचलित है कि, मेरी मुट्ठी में तिल है तो धन मिलेगा | शोध के मुताबिक हथेली में तिल की स्थिति दो जगहों पर शुभ मानी गयी है |

प्रथम स्थिति जो फलदायी मानी गयी है वह धनागार पर है (जीवन रेखा और मस्तिष्क रेखा के बीच त्रिकोण में)| यह तिल व्यक्ति को भी धनवान बना देता है | पैसे की कमी कभी नहीं आती है |

दूसरी स्थिति जो शुभ मानी गयी है ब्रहस्पति क्षेत्र में मानी गयी है | यहाँ पर तिल की स्थिति व्यक्ति के वैवाहिक जीवन को बहुत सुखी बनाती है | पत्नी पढ़ी-लिखी धार्मिक विचारों वाली व् ईश्वर में आस्था रखने वाली होती है और ससुराल भी धनि प्राप्त होता है | इन दोनों क्षेत्रो के अतिरिक्त हथेली के अन्य क्षेत्रो में यह अशुभता देता है | आइये देखते है कि हथेली के अन्य पर्वतों में यह तिल व्यक्ति के जीवन में किस प्रकार प्रभाव डालता है |

१, सूर्य पर्वत  

palmistry

सूर्य पर्वत पर तिल हो तो व्यक्ति को समाज में कलंकित होना पड़ता है | किसी की गवाही की जमानत उल्टा नुक्सान कर देती है | नौकरी में पद्युक्त, व्यापार में घाटा होता है | मान-सम्मान में धब्बा लगता है और नेत्र सम्बंधित रोग होते है |

२, चन्द्र पर्वत

palmistry

चन्द्र पर्वत में तिल हो तो जल भय एवं जल में डूबने से मृत्यु की भी आशंका बनी रहती है | तरल केमिकल्स, शराब और दवाईयों जैसे व्यापार में भी नुक्सान उठाना पड़ता है | विवाह में देरी होती है | व्यक्ति की माता का स्वास्थय खराब और कभी-कभी माता से भी संबंद मधुर नहीं रहते है |

आगे की जानकारी पड़ने के लिए नीचे नेक्स्ट बटन पर क्लिक करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here